जगतगुरु रामानंदाचार्य हंस देवाचार्य का पार्थिव शरीर पंहुचा हरिद्वार

जगतगुरु रामानंदाचार्य हंस देवाचार्य का पार्थिव शरीर पहुंचा हरिद्वार, आज खड़खड़ी घाट पर होगा अंतिम संस्कार

देश के जाने-माने संत रामानंदाचार्य हंस देवाचार्य का पार्थिव शरीर आज तड़के हरिद्वार पहुंचा. उनके पार्थिव शरीर को खड़खड़ी स्थित उनके आश्रम में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है. शाम चार बजे तक अंतिम दर्शन कर सकेंगे. उसके बाद खड़खड़ी स्थित शमशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. वहीं, उनके अंतिम संस्कार में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और सांसद रमेश पोखरियाल निशंक समेत कई लोग शामिल हो सकते हैं.

बता दें कि संत रामानंदाचार्य हंस देवाचार्य का शुक्रवार को लखनऊ में एक सड़क दुर्घटना में निधन हो गया था. ये हादसा उस वक्त हुआ जब स्वामी हंसदेवाचार्य प्रयागराज से हरिद्वार वापस लौट रहे थे. उनके निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संत की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उनके पार्थिव शरीर को एयर एंबुलेंस की व्यवस्था न होने के कारण सड़क मार्ग से हरिद्वार आज तड़के चार बजे लाया गया. बाबा के आखिरी दर्शन के लिए भीमगोडा स्थित आश्रम में साधु-संतों की भीड़ जुटने लग गई है. आज शाम 4 बजे खड़खड़ी श्मशान घाट पर संत का अंतिम संस्कार किया जाएगा. अंत्येष्टि कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सहित कई नेता पहुंच सकते हैं

हंस देवाचार्य रामानंद सम्प्रदाय के संत थे और अयोध्या में राम मंदिर आंदोलन में उनकी प्रमुख भूमिका रही है. हाल ही में प्रयागराज में राम मंदिर को लेकर स्वामी हंस देवाचार्य ने बड़ी धर्म संसद करवाई थी. शुरुआती दिनों से स्वामी रामदेव के बहुत करीबी रहे हैं हंस देवाचार्य. उनको वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गयी थी. वहीं, उनके निधन की खबर से संत समाज स्तब्ध है और उनके हरिद्वार स्थित आश्रम में बड़ी संख्या में साधु संत और उनके समर्थक जुट गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *