1 हजार घंटे के अनुभव वाले ही उड़ा पायंगे

एक हज़ार घंटे के अनुभव वाले ही उड़ा पाएंगे वोइंग 737
इथियोपिया में बोइंग के 737 मैक्स विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद भारत के विमानन नियामक डीजीसीए ने कहा है कि भारतीय एयरलाइंस के वही पायलट 737 मैक्स-8 उड़ा पाएंगे जिनके पास 1,000 घंटे का हवाई जहाज़ उड़ाने का अनुभव होगा.

डीजीसीए ने सह-पायलट के लिए भी दिशानिर्देश जारी किए हैं. 737 मैक्स-8 उड़ाने वाले सह-पायलट के पास 500 घंटे की उड़ान का अनुभव होना चाहिए.

इसके अलावा डीजीसीए ने इस मॉडल के विमानों का निरीक्षण किया है और कहा है कि इसको लेकर कोई ख़ास चिंता वाली बात नहीं है.

भारत में जेट एयरवेज़ और स्पाइसजेट जैसी विमानन कंपनियां इन विमानों का परिचालन कर रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *