कोलकत्ता मे हाईबोल्टेज ड्रामा पुलिस ने CBI Team को हिरासत मे लिया

कोलकाता में हार्इबोल्‍टेज ड्रामा: पुलिस ने CBI Team को हिरासत में लिया, ममता बनर्जी कमिश्‍नर के घर पहुंचीं

चिटफंड घोटाले में सीबीआइ कोलकाता पुलिस कमिश्‍नर राजीव कुमार के घर पहुंची। मौके पर कोलकाता पुलिस के दो डीसीपी मौजूद हैं। कोलकाता पुलिस ने सीबीआइ से वारंट मांगा और पुलिस अफसरों ने सीबीआइ टीम को अंदर जाने से रोका। बताया जाता है सीबीआइ टीम और पुलिस के बीच हाथापाई भी हुई।
बाद में कोलकाता पुलिस ने सीबीआइ टीम को हिरासत में ले लिया है। विधाननगर पुलिस ने सीजीओ कॉम्‍प्‍लेक्‍स स्थित सीबीआइ दफ्तर को कब्‍जा में लिया।
CBI का कहना है कि हमें जांच करने से रोका गया। मामले में जांच जरूरी है। वहीं इस बीच मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पुलिस कमिश्‍नर राजीव कुमार के घर पहुंच गई हैं। वहां मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी राज्‍य के आला अधिकारियों के साथ बैठक कर रही हैं।
तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि ‘भाजपा संवैधानिक तख्तापलट की योजना बना रही है। कोलकाता पुलिस कमिश्‍नर के घर को 40 सीबीआइ अफसरों ने घेर रखा है। संस्थानों का विनाश बेरोकटोक चला जाता है। सोमवार को हम संसद में अपनी मांग उठाने जा रहे हैं। मोदी सरकार जा रही है। लोकतंत्र को बचाने के लिए सभी विपक्षी दलों को आगे आने होगा।’

बताया जा रहा है कि वह सीबीआइ की तरफ से जारी नोटिसों का जवाब नहीं दे रहे हैं। दरअसल, राजीव कुमार ने चिटफंड घोटालों की जांच करने वाली पश्चिम बंगाल पुलिस की स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम (एसआइटी) का नेतृत्व किया था। वह पश्चिम बंगाल कैडर के 1989 बैच के आइपीएस अधिकारी हैं। राजीव कुमार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के काफी करीबी माने जाते हैं।

ममता बनर्जी ने रविवार को ट्वीट में लिखा है कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर दुनिया में सबसे अच्छे लोगों में से हैं। उनकी ईमानदारी, बहादुरी और ईमानदारी निर्विवाद है। वह 24 काम कर रहे हैं और हाल ही में केवल एक दिन के लिए छुट्टी पर थे। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी पुलिस और अन्य सभी संस्थानों को नियंत्रित करने के लिए शक्ति का दुरुपयोग कर रही है।
दूसरी ओर कहा जा रहा है कि वह पिछले तीन दिनों से लापता हैं। उनके मोबाइल नंबर पर फोन करने पर वह फोन नहीं उठा रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि बांग्ला फिल्म निर्माता श्रीकांत मोहता की गिरफ्तारी के बाद से ही राजीव कुमार को अपनी गिरफ्तारी का डर सता रहा है। कुछ चश्मदीदों के मुताबिक, राजीव कुमार को कुछ दिन पहले एक बुक फेयर में देखा गया था। उन्हें 2016 में कोलकाता का पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *