बेंगलुरु मिराज हादसा रक्षा मंत्री शहीद सिद्धार्थ के परिवार से मिली

बेंगलुरु मिराज हादसा: शहीद सिद्धार्थ के परिवार से मिलीं रक्षा मंत्री, हरसंभव मदद का भरोसा

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आज देहरादून पहुंचीं हैं. उन्होंने यहां बेंगलुरु में प्लेन क्रैश में शहीद हुए
पायलट सिद्धार्थ नेगी के परिजनों से मुलाकात की.
रक्षा मंत्री के देहरादून आगमन पर उत्तराखंड पुलिस ने उनकी सुरक्षा के लिए क्षेत्र में
भारी पुलिसबल तैनात किया है.

बता दें कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आज सुबह अपने विशेष चॉपर से करीब 11:30 बजे दून पहुंचीं, जिसके बाद वह सीधे पंडितवाड़ी में शहीद सिद्धार्थ नेगी के परिजनों से मिली. इस मौके पर उन्होंने शहीद के परिजनों को ढांढस बंधाते हुए अपनी संवेदना जताई. इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी मौजूद रहे.

कैसे हुआ था हादसा
बीती एक फरवरी को वायुसेना के मिराज-2000 लड़ाकू विमान ने बेंगलुरु स्थित एचएएल (हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड) की हवाई पट्‌टी से उड़ान भरी थी. लेकिन उड़ान भरने के कुछ ही समय बाद सुबह करीब 10.30 पर यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया. जिसमें दो पायलटों की मौत हो गई थी. जिसमें देहरादून के स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी भी थे.
हादसे के दिन था शहीद का जन्मदिन
मिराज-2000 विमान हादसे में शहीद पायलट सिद्धार्थ नेगी का पूरा परिवार देहरादून के पंडितवाड़ी में रहता है. सिद्धार्थ ने बारहवीं तक की शिक्षा दीक्षा गढ़ी कैंट स्थित Seven Oaks School से हुई थी. इनके पिता बलवीर सिंह नेगी सीबीसीआईडी से रिटायर होकर फिलहाल देहरादून स्थित एक यूनिवर्सिटी में प्रशासनिक अधिकारी के रूप कार्यरत हैं.
शहीद सिद्धार्थ की शादी ढाई साल पहले ही हुई थी और उनकी पत्नी भी एयरफोर्स में कार्यरत हैं. जिस दिन यह हादसा हुआ था उस दिन सिद्धार्थ का जन्मदिन भी था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *